मुंबई में कोरोना के 1128 नए मामले सामने आए, कुल मामले बढकर 67,635 हुए

0
16


मुंबई में कोरोना मरीजों के ठीक होने की औसत दर 50 प्रतिशत है जबकि 15 से 20 जून के बीच मामलों में समग्र वृद्धि दर 1.88 प्रतिशत रही.

मुंबई: देश की आर्थिक राजधानी मुंबई में सोमवार को कोरोना वायरस के 1128 नए मामले सामने आने से यहां कुल मामले बढ़कर 67,635 हो गए. जबकि 20 और मरीजों की मौत होने से मृतक संख्या बढ़कर 3,735 हो गई. एक आधिकारिक विज्ञप्ति में कहा गया कि पिछले 24 घंटे में कुल 628 मरीजों को ठीक होने के बाद विभिन्न अस्पतालों से छुट्टी दी गई जिससे ठीक हुए मरीजों की कुल संख्या बढ़कर 34,119 हो गई.

शहर में ऐसे मरीजों की संख्या 29,781 है जिनका अभी उपचार चल रहा है. एक दिन में कुल 863 नए संदिग्ध मरीजों को अस्पतालों में भर्ती कराया गया. मुंबई में कोविड-19 मरीजों के ठीक होने की औसत दर 50 प्रतिशत है जबकि 15 से 20 जून के बीच मामलों में समग्र वृद्धि दर 1.88 प्रतिशत रही. बीएमसी ने कहा कि शहर में मामलों के दोगुना होने की दर सुधरकर 37 दिन हो गई है.

मुंबई में कोरोना के 21 मामले आने पर पॉश टॉवर सील

मुंबई के मालाबार हिल्स इलाके की एक 28 मंजिली इमारत में कोरोना संक्रमण के 21 मामलों का पता चलने पर टॉवर जैसी इस इमारत को सील कर दिया गया. इस टॉवर में कोरोना संक्रमण के 21 मामले एक हफ्ते के अंदर सामने आए हैं. इसी इमारत में शुक्रवार को 10 लोग कोरोना पॉजिटिव पाए गए थे. इस इमारत में देश की आर्थिक राजधानी के कई नामचीन लोग रहते हैं.

बृहन्मुंबई नगर निगम के डी-वार्ड के असिस्टेंट म्युनिसिपल कमिश्नर प्रशांत गायकवाड़ ने कहा, “बीते सात दिनों में हमने 21 संक्रमितों की पहचान की. इनमें दो लोग इस इमारत के निवासी हैं, बाकी 19 लोगों में घरेलू नौकर, ड्राइवर और सेक्युरिटी गार्ड शामिल हैं. पिछले हफ्ते एक ड्राइवर संक्रमित हुआ और उससे कई ड्राइवरों के बीच संक्रमण फैल गया. धीरे-धीरे, घरेलू नौकरों और सुरक्षा गार्डो के बीच भी संक्रमण फैल गया.”

नगर निगम सभी सार्वजनिक स्थलों और वहां के शौचालयों को रोजाना चार से छह बार सेनिटाइज करने की मुहिम चलाने की घोषणा की है.

ये भी पढ़ें-
कोरोना के बीच चीन ने हाई-स्पीड मैग्लेव ट्रेन का किया परीक्षण, 600 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से दौड़ेगी



Rights

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें