पहली एक हजार मौतें 48 दिन में हुईं, अगले 49 दिनों में 9 हजार जानें गईं; शुक्र है 10 हजार मौतों की भारत की रफ्तार सबसे धीमी

0
28


  • अब मौत की सबसे तेज रफ्तार भारत और मैक्सिको की, यहां हर 17 दिनों में संक्रमण से मरने वालों की संख्या दोगुनी हो रही है
  • देश की 42.9% मौतें केवल महाराष्ट्र में, गुजरात में 15.78% और देश की राजधानी दिल्ली में 14.89% संक्रमितों ने दम तोड़ा

दैनिक भास्कर

Jun 17, 2020, 03:40 AM IST

नई दिल्ली. यह बेहद बुरी खबर है। देश में कोरोना से मरने वालों का आंकड़ा दस हजार के पार हो गया है। संक्रमण से पहली मौत 11 मार्च को कर्नाटक में हुई थी। तब से 28 अप्रैल तक यानी 48 दिनों में मरने वालों की संख्या एक हजार हुई। इसके बाद कोरोना का कहर इस कदर टूटा कि मौतों की रफ्तार तेज हो गई। इतनी तेज कि 29 अप्रैल से 16 मार्च तक यानी 49 दिनों में ही 9 हजार से ज्यादा लोगों ने दम तोड़ दिया।

शुक्र है…. भारत में दस हजार मौतों की रफ्तार अन्य देशों के मुकाबले धीमी रही। यहां इतनी मौतें होने में 97 दिन लगे। मौत की यह रफ्तार सबसे तेज स्पेन में रही। यहां 30 दिनों में ही दस हजार लोगों ने जान गंवा दी। इसके बाद अमेरिका, इटली और इंग्लैंड में इतनी मौते होने में 36-36 दिन लगे।

अमेरिका में सबसे ज्यादा लोगों ने जान गंवाई, 8वें नंबर पर भारत
दुनिया में 8 देश हैं जहां दस हजार से ज्यादा मौतें हो चुकी हैं। भारत इसमें आठवें नंबर पर है। सबसे ज्यादा मौतें अभी तक अमेरिका में हुई हैं। यहां अब तक 1.18 लाख लोग जान गंवा चुके हैं। इस मामले में ब्राजील दूसरे नंबर पर है। यहां अब तक 44.11 हजार संक्रमितों की मौत हुई है। यूके में 41.73 हजार, इटली में 34.37 हजार और फ्रांस में 29.43 हजार लोगों की जान जा चुकी है। 6वें नंबर पर स्पेन है, जहां 27.13 हजार मौतें हुई हैं। 7वें नंबर पर मैक्सिको है, जहां 17.58 हजार संक्रमितों की मौत हुई है।

अब भारत और मैक्सिको में हर 17 दिन में मरने वालों की संख्या दोगुनी हो रही
संक्रमण से सबसे ज्यादा प्रभावित दुनिया के 7 देशों की लिस्ट में भारत और मैक्सिको में मौत की रफ्तार अब सबसे तेज है। यहां हर 17 दिनों में मरने वालों की संख्या दोगुनी हो रही है। सबसे धीमी रफ्तार अब इटली की है। यहां डेथ का डबलिंग रेट 66 दिन है। अमेरिका में हर 45 दिनों में मरने वालों की संख्या दोगुनी हो रही है।

देश की 73.53% मौतें केवल तीन राज्यों में हुईं
देश में अब तक 10 हजार 238 लोगों की मौत हो चुकी है। इनमें 42.9% मरीज अकेले महाराष्ट्र से थे। इसके अलावा गुजरात में 15.78% और देश की राजधानी दिल्ली में 14.89% संक्रमितों ने दम तोड़ा है। अगर आंकड़ों को देखें तो देश में हुई कुल मौतों में 73.53% लोग सिर्फ महाराष्ट्र, गुजरात और दिल्ली से थे। बाकी 26.47% मौतें देश के अन्य राज्यों और केंद्र शासित राज्यों में हुई हैं। 



Authority

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें